कैबिनेट ने शिक्षण संस्थाओं में आरक्षण को मंजूरी दी:मंत्रिमंडल ने फैसला किया कि स्कूलों और कॉलेजों में एडमिशन पूर्व की तरह होगा

CM हाउस में भूपेश कैबिनेट की बैठक में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। राज्य के शैक्षणिक संस्थाओं में पहले की तरह आरक्षण व्यवस्था लागू होगी। निर्देश प्रदान किए गए हैं।

राज्य शासन को राहत देते हुए सुप्रीम कोर्ट ने एक मई 2023 को एसएलपी में पारित अंतरिम आदेश के अनुसार नियुक्ति और चयन प्रक्रियाओं को जारी रखने का आदेश दिया। मंत्रिपरिषद की बैठक ने राज्य की शिक्षण संस्थाओं में भी आरक्षण व्यवस्था के तहत प्रवेश करने का फैसला किया है।

मीटिंग में डिप्टी टीएस सिंहदेव, मंत्री कवासी लखमा, जयसिंह अग्रवाल वर्चुअली जुड़े हैं।

डिप्टी मुख्यमंत्री टीएस सिंहदेव, मंत्री कवासी लखमा और जयसिंह अग्रवाल ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से मुख्यमंत्री निवास में हुई बैठक में भाग लिया। बैठक में मंत्री रविंद्र चौबे, मो. अकबर, ताम्रध्वज साहू, अनिला भेड़िया, मोहन मरकाम और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और डिप्टी सीएम टीएस सिंहदेव, प्रदेश में विधानसभा चुनावों को कुछ महीने बाकी होने के बावजूद, लगातार विभिन्न संगठनों से बातचीत कर रहे हैं। जनहित के मुद्दों और सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं पर टिप्पणी कर रहे हैं।

Also Read: CG कैबिनेट ब्रेकिंग: कुछ देर में भूपेश कैबिनेट की बैठक, अचानक बुलाई गई अहम निर्णयों का संकेत

जानकारी के अनुसार, 15 अगस्त को मुख्यमंत्री कोई महत्वपूर्ण घोषणा कर सकते हैं। उससे पहले, उन्होंने मंत्रिमंडल की बैठक बुलाकर महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा की। PSC नियमों में संशोधन और आरक्षण, प्रदेश में वर्तमान मानसून और कृषि परिस्थितियों के बारे में अब तक चर्चा हुई है।

Also Read:केबीसी में 50 लाख रुपये जीतने वाले सरकारी अधिकारी ने पद से इस्तीफा दिया. फिर, एक मोड़

Leave a Comment